Metaverse क्या है ? जो बदल देगा इंटरनेट का वर्चुअल दुनिया 2022

Metaverse kya hai: मेटावर्स एक ऐसा सेक्टर होगा जहां हम वस्तुतः अपने साथ बाकी सब कुछ देख पाएंगे। Metaverse को भविष्य का इंटरनेट कहा जा रहा है। Facebook के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने पिछले साल अपनी कंपनी का नाम Facebook से बदलकर Meta कर लिया था।

हालांकि ज्यादातर लोगों ने Mark Jukerbarg के इस फैसले पर ध्यान नहीं दिया या यूं कह सकते हैं, कि जुकरबर्ग की बात लोगों तक नहीं पहुंच पाई | इस बीच दुनिया में एक शब्द की खूब चर्चा हो रही है।

यह शब्द है – मेटावर्स। इसमें कोई शक नहीं कि आपने भी Metaverse का नाम तो सुना ही होगा, लेकिन यह क्या है (Metaverse kya hai) और इसका उद्देश्य क्या है? आज हम आपको इसके बारे में बताने की कोशिश करेंगे। दरअसल, मेटावर्स एक आभासी दुनिया है।

जिसमें आप अपने वर्चुअल अवतार से मिल सकेंगे और लगभग वो सभी काम कर पाएंगे जो आप अपनी असल जिंदगी में करते हैं। लेकिन, यह ध्यान रखना बहुत जरूरी है कि Metaverse सिर्फ एक काल्पनिक दुनिया होगी।

Metaverse Kya hai ? ( What is Metaverse in hindi )

क्या आपको याद है बचपन में जब हम दादी या दादी परियों की कहानियां सुनाया करते थे। उस समय हमारे आस-पास का सारा वातावरण बदल जाता था और फिर हम छोटे हो जाते थे, उसमें पूरी तरह खो जाते थे और भूत-प्रेत भी अपने अंधेरे से निकलकर हमें पकड़ने लगते थे।

आज जब हम बड़े हो गए हैं तो हमारे आस-पास के वातावरण को इतना रोमांचक और बदल रहा है और हमें वास्तविकता का एहसास करा रहा है, ऐसी तकनीक आ रही है, जो हमें एक ऐसी काल्पनिक दुनिया में ले जाएगी जहां हम पूरी तरह से खो जाएंगे या डूब जाएंगे हां, Metaverse इंटरनेट की दुनिया की Future की तकनीक है। जहां हम घर बैठे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से मिल सकते हैं।

आप उनसे मनचाहे माहौल में या परिवार के उन लोगों के साथ बैठकर बात कर सकते हैं जो हमसे दूर हैं। आप उनसे आमने सामने बात कर सकते हैं। इतना ही नहीं हम इसकी मदद से अपनी मनपसंद जगह या किसी मशहूर जगह पर जा सकते हैं, और अपनी पसंद का कोई भी खेल खेल सकते हैं। आप चाहें तो बिना किसी Fees के अपनी पसंद के स्टेडियम में इसका अभ्यास भी कर सकते हैं और लाखों लोगों के सामने अपने गाने और संगीत का प्रदर्शन भी कर सकते हैं।

इसकी मदद से आप अपनी कला और कलाकृतियों को दुनिया के सामने दिखा सकते हैं और घर बैठे बाजार जाकर अपनी मनपसंद चीज खरीद सकते हैं |अगर आप काम की तलाश में हैं। यहां आपको काम भी मिलेगा, जिसके बदले में आपको पैसे भी मिलेंगे |

जिसमें आप अपनी क्षमता के अनुसार खूब पैसा कमा सकते हैं और इन सबके लिए आपको घर से कहीं जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी | यह सब आपको घर पर ही उपलब्ध होगा। तो आप तैयार हैं, Metaverse के इस *भ्रम* में प्रवेश करने के लिए।

Metaverse की शुरुआत किसने और कब की थी ? 

मेटावर्स की शुरुआत 1992 में नील स्टीफेंसन ने अपने उपन्यास में की थी। इस उपन्यास का नाम स्नो क्रश था। आपको बता दें कि एक प्रकार के उपन्यास को लेखक कहा जाता है। इसका मतलब है कि इस तकनीक की शुरुआत एक लेख द्वारा की गई थी। इसके अलावा हाल ही में कई कंपनियां इस तकनीक पर काम कर रही हैं।

Virtual Reality ( VR )

वर्चुअल रियलिटी (VR) तकनीक के जरिए एक अलग काल्पनिक दुनिया बनाई जा सकती है। जो एक तरह से बिल्कुल अलग फंतासी दुनिया है। इस दुनिया में प्रवेश करने के लिए एक VR हेडसेट का उपयोग किया जाता है।

ज्यादातर इस तकनीक का इस्तेमाल मोबाइल में गेम्स, वीडियो, क्लिप्स, मूवीज और 3डी व्यू में किया जाता है। इसके अलावा आपको बता दें कि इस तकनीक का इस्तेमाल और भी कई जगहों पर किया जाता है।

Augmented Reality ( AR ) 

ऑगमेंटेड रियलिटी (एआर) के जरिए वर्चुअल वर्ल्ड को रियल वर्ल्ड से जोड़ा जाता है, जिसमें हम रियल लाइफ में वर्चुअल चीजों को देख पाते हैं। आसान शब्दों में कहें तो इस तकनीक के जरिए फोन में चल रहे वीडियो और फोटो को असल जिंदगी में आउट ऑफ के रूप में देखा जा सकता है।

जिससे आप अपने फोन में ऐसी चीजें देख सकते हैं जिन्हें वर्चुअल इंपैक्ट कहा जाता है। आप इसे अपने वास्तविक जीवन में अनुभव कर पाएंगे। इस तकनीक का इस्तेमाल अक्सर हॉलीवुड फिल्मों में अच्छी क्लिप बनाने के लिए किया जाता है।

इसे भी पढ़े – Bitcoin Kya hai: जानिए पूरी जानकारी हिंदी में 2022

Virtual Reality ( VR ) और Augmented Reality ( AR ) में क्या अंतर है ? 

Virtual Reality (VR) और Augmented Reality (AR) के बीच सबसे बड़ा मुख्य अंतर यह है कि Virtual Reality में एक काल्पनिक दुनिया बनाई जा सकती है, जिसे VR हेडसेट के जरिए दर्ज किया जा सकता है। जबकि ऑगमेंटेड रियलिटी आभासी दुनिया को वास्तविक दुनिया से जोड़ती है। जिससे एक कृत्रिम नजारा हमारे सामने आ जाता है।

मेरे कहने का मतलब कुछ इस तरह है कि हम अपने फोन में चल रहे वीडियो और फोटो को स्क्रीन से हटाकर देख सकते हैं और यह सब ऑगमेंटेड रियलिटी (एआर) के जरिए संभव है। इसके अलावा वीडियो के साथ-साथ आवाज भी निकाली जा सकती है।

Facebook ने अपना नाम बदल कर Meta क्यों रखा?

फेसबुक अक्सर अपनी Negative इमेज को लेकर चर्चा में रहती है। हाल ही में Facebook पेपर लीक की चर्चा के कारण फेसबुक का नाम खराब हो गया है और कई घोटाले हैं जिनमें Facebook का नाम शामिल है, जिससे कंपनी की छवि को काफी नुकसान पहुंचा है।

कई लोगों का कहना है कि कंपनी की छवि को बचाने के लिए मार्क जुकरबर्ग ने कंपनी का नाम बदलकर Meta कर दिया ताकि लोगों का ध्यान इसके विवादों से हट सके। वही मार्क जुकरबर्ग ने Facebook को Meta घोषित करते हुए कहा था कि वह केवल Social Media कंपनी होने तक ही सीमित नहीं रहना चाहते हैं।

उनका कहना है कि “अभी हमारा ब्रांड केवल एक उत्पाद यानी Social media से जुड़ा है, लेकिन वे वर्तमान में जिस पर काम कर रहे हैं वह उससे मेल नहीं खाता है” उनके कहने का मतलब है कि वे अभी क्या काम कर रहे हैं। यानी Meta पर यह उनके ब्रांड नेम से बिल्कुल भी मेल नहीं खाता, जहां Facebook सिर्फ Social media और मेटा को वर्चुअल वर्ल्ड को संदर्भित करता है। Metaverse kya hai

तकनीक बहुत तेजी से बदल रही है जहां Metaverse कहा जा रहा है कि यह Internet को पूरी तरह से बदल देगा और अब हम नए इंटरनेट युग में जा रहे हैं, जिसमें Metaverse एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा होने जा रहा है।

Metaverse के उदहारण :

चूंकि अब आप बहुत कुछ जानते हैं कि Metaverse kya hai? और यह कैसा दिखने वाला है। आइए अब जानते हैं कि कुछ ऐसे उदाहरण जहां आप पहले ही Metaverse का इस्तेमाल करते हुए देख चुके हैं।

Ready Player One

यह वास्तव में एक किताब है जो बहुत लोकप्रिय भी हुई थी। इसमें लेखक ने मेटावर्स जैसी आभासी दुनिया का जिक्र किया था। वहीं इस पर एक फिल्म भी बन चुकी है, नीचे आप इसका ट्रेलर देख सकते हैं. एक ऐसा गेम जिसमें आपको एक ही तरह की दुनिया देखने को मिलेगी।

Facebook’s Horizon

फेसबुक अपनी विस्तारित वीआर दुनिया, होराइजन (वर्तमान में बीटा में) के साथ खुद को मेटावर्स की ओर बढ़ा रहा है। फेसबुक क्षितिज को “एक सामाजिक अनुभव के रूप में वर्णित करता है जहां आप वीआर में दूसरों के साथ एक्सप्लोर कर सकते हैं, खेल सकते हैं और बना सकते हैं।” Metaverse kya hai

Fortnite

पिछले कुछ वर्षों में, Fortnite के CEO, टिम स्वीनी ने, Fortnite को केवल एक खेल से अधिक के रूप में स्थापित करने के लिए स्पष्ट संदर्भ दिए हैं। 2020 में, Fortnite के भीतर रैपर ट्रैविस स्कॉट के वर्चुअल कॉन्सर्ट में 12.3 मिलियन लोगों ने भाग लिया, जिससे यह खेल का अब तक का सबसे बड़ा कार्यक्रम बन गया।

Metaverse के फायदे 

Metaverse के कुछ निम्न फायदों के बारे में आपको नीचे विस्तार से बताया गया है। जिनके बारे में आप नीचे पढ़कर जान सकते हैं।

  • मेटावर्स तकनीक के आने से मानव जीवन में समय की भारी बचत होगी।
  • वास्तविक डिजिटल दुनिया में सभी को महान व्यक्तिगत परिवर्तन देखने को मिलेगा।
  • मेटावर्स में, उपयोगकर्ता डिजिटल दुनिया को अनुकूलित कर सकते हैं या भौतिक विशेषताओं और व्यक्तित्वों को अपना सकते हैं।
  • आभासी वास्तविकता (वीआर) और संवर्धित वास्तविकता (एआर) के माध्यम से आप वास्तविक डिजिटल दुनिया में किसी भी डिवाइस में आवाज के साथ 3डी दृश्य या वीडियो को चल रहे वीडियो को देखने में सक्षम होंगे।

Metaverse kya hai ? Metaverse के नुक्सान 

जैसा कि हर चीज के अपने फायदे होते हैं, इसके कुछ नुकसान भी होते हैं, Metaverse Technology के कुछ नुकसान भी आपको नीचे बताए गए हैं।

  • मेटावर्स तकनीक इतनी महंगी होने वाली है कि हर कोई इसका फायदा उठाने में नाकाम रहेगा।
  • हम वास्तविक दुनिया से आभासी दुनिया में तब्दील हो जाएंगे। जो डिजिटल दुनिया के अनुभव को खत्म कर देगा।
  • उपयोगकर्ता हमलों और व्यक्तिगत डेटा का लाभ उठाकर इस तकनीक का फायदा उठाएंगे।

क्या मेटावर्से सेफ होने वाला है?

कई लोगों के मन में यही सवाल उठ रहा है कि क्या ऐसा होगा?, क्या इससे कोई खतरा नहीं होगा? लंबे समय से सरकार और फेसबुक ट्विटर और दूसरी बड़ी कंपनियों के बीच प्राइवेसी से जुड़े मुद्दे उठ रहे हैं। ऐसे में जब बात वर्चुअल दुनिया की आती है तो सबसे पहले प्राइवेसी को लेकर कई सवाल मन में आते रहते हैं.

क्योंकि हर कोई अपनी प्राइवेसी को बनाए रखना चाहता है, कोई नहीं चाहता कि दूसरा व्यक्ति उसकी प्राइवेसी को जाने या उसे किसी भी तरह से नुकसान पहुंचाए।

देखा जाए तो मेटावर्स एक ऐसी तकनीक है, जिसके जरिए वर्चुअल और रियल लाइफ की दुनिया में कोई अंतर नहीं होगा। ऐसे में अगर प्राइवेसी की बात करें तो इसका खतरा और बढ़ जाएगा क्योंकि इसके जरिए लोग आमने-सामने बैठकर कई तरह की बातें करेंगे.

इस तरह कंपनी हमारी निजी बातचीत और व्यक्तिगत डेटा को भी नियंत्रित कर पाएगी, इसलिए यह पूरी तरह से सुरक्षित नहीं है।

मेटावर्स (Metaverse ) का भविष्य

फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने मेटावर्स पर शोध के लिए दस अरब डॉलर अलग रखे हैं। दुनिया की कई प्रमुख कंपनियां इस दुनिया में लगी हुई हैं या ऐसी तकनीकों को विकसित करने की दौड़ में लगी हुई हैं जो इस काल्पनिक दुनिया को हकीकत में बदल दें। इस वजह से इसका भविष्य उज्जवल नजर आ रहा है।

Post Tag – Metaverse kya hai, Metaverse in Hindi, Metaverse kya hai, Metaverse in Hindi, Metaverse meaning in Hindi, what is Metaverse in Hindi, Metaverse kya hai, Metaverse kya hai, Metaverse future in Hindi,

FAQ – (Metaverse kya hai)

Q.1 – फेसबुक का नाम कब बदला गया था?

Answer – 28 अक्टूबर 2021 को फेसबुक का नाम बदला गया था और उसका नाम मेटा रखा गया।

Q.2 – क्या मेटावर्से के जरिए हम गेट टूगेदर कर पाएंगे?

Answer – जी हां, इस तकनीक के जरिए आप दूर होकर भी एक दूसरे के साथ रह पाएंगे।

Q.3 – मेटावर्से शब्द कौन से नोबल से लिया गया है?

Answer – स्नो क्रैश नॉवेल से।

Q.4 – मेटावर्से के उदाहरण कौन से हैं?

Answer – मेटावर्से का सबसे बढ़िया उदाहरण सेकंड लाइफ गेम है, जिसमें प्लेयर घर बना सकता है, शादी कर सकता है।

Q.5 – क्या मेटावर्से सेफ है?

Answer – अभी के स्वरूप से देखा जाए तो यह सेफ़ नहीं है, इसके जरिए आपकी प्राइवेसी लीक होने का डर है।

Conclusion – Metaverse kya hai

मुझे पूरी उम्मीद है कि मैंने आपको Metaverse kya hai?  के बारे में पूरी जानकारी दी है। और मुझे उम्मीद है कि आप लोग Metaverse की परिभाषा के बारे में समझ गए होंगे।

आप सभी पाठकों से मेरा अनुरोध है कि आप भी इस जानकारी को अपने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों, अपने दोस्तों में साझा करें, जिससे हमारे बीच जागरूकता आएगी और इससे सभी को बहुत फायदा होगा। मुझे आपके सहयोग की आवश्यकता है ताकि मैं आप लोगों तक और नई जानकारी पहुंचा सकूं।

आपको यह लेख Metaverse kya hai? कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं ताकि हमें भी आपके विचारों से कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मौका मिले। कृपया इस पोस्ट को Social Network पर शेयर करें जैसे कि मेरी पोस्ट के प्रति अपनी खुशी और जिज्ञासा दिखाने के लिए Facebook, Twitter आदि पर शेयर करें।

क्या है Bitcoin ? जानिए इसके बारे में अनोखे राज

1 thought on “Metaverse क्या है ? जो बदल देगा इंटरनेट का वर्चुअल दुनिया 2022”

Leave a Comment