Dogecoin क्या है? और Dogecoin में निवेश कैसे करें? 2022

Dogecoin kya hai – और इसके बारे में जानना बहुत दिलचस्प है। आपने रुपया (भारतीय रुपया) के सिक्कों और बिटकॉइन Bitcoin के बारे में तो बहुत सुना होगा, लेकिन आजकल एक नया सिक्का पूरी दुनिया में मशहूर हो रहा है। इसका नाम Dogecoin है।

अब इसकी अपनी मुद्रा अभी भी हमारी मुद्रा (मुद्रा, मुद्रा) पर आधारित है और Bitcoin ब्लॉकचेन पर आधारित है जिसका दावा है कि यह दुनिया भर में मुद्रा के क्षेत्र में नई क्रांति लाएगा। लेकिन यह Dogecoin मीम्स पर आधारित है।

विश्वास नहीं होता कि यह सिक्का मजाक में बनाया गया था। एक जमाने में यह डॉग मीम काफी मशहूर हुआ तो किसी ने इस कुत्ते की फोटो उठाकर इसका सिक्का बना लिया। मतलब कुछ ऐसा हुआ कि कुछ मिस्टर बीन के मीम्स को ब्लॉक कर उन्हें बीनकॉइन बनाने वाला कोई नहीं है।

Cryptocurrency अभी तक सरकार से संबंधित नहीं है, इसलिए कोई भी व्यक्ति अपने खुद के सिक्के बना सकता है। मतलब बेसिक कोडिंग नॉलेज जरूरी है। लेकिन जरूरी नहीं कि हर सिक्के को इतनी प्रसिद्धि मिले।

Dogecoin kya hai? 

डॉगकॉइन एक वर्चुअल यानि डिजिटल करेंसी है। यह अन्य मुद्रा से बिल्कुल अलग है क्योंकि हम पैसे की तरह डॉगकोइन को न तो देख सकते हैं और न ही छू सकते हैं। हम केवल डॉगकॉइन को ऑनलाइन खरीद और बेच सकते हैं। आप बस इसमें व्यापार कर सकते हैं।

डॉगकॉइन, अन्य क्रिप्टोकरेंसी की तरह, एक डिजिटल मुद्रा है जिसका आप व्यापार कर सकते हैं। डॉगकोइन की शुरुआत 2013 में सॉफ्टवेयर इंजीनियर बिली मार्कस और जैक्सन पामर ने मजाक के तौर पर की थी।

ऐसा माना जाता है कि दुनिया भर में 128 बिलियन से अधिक डॉगकॉइन प्रचलन में हैं। इसे अभी शुरुआत बताया जा रहा है। मौजूदा आंकड़ों को देखें तो डॉगकोइन क्रिप्टोकरेंसी में लोगों की दिलचस्पी बिटकॉइन से काफी ज्यादा बढ़ गई है।

डॉगकोइन क्रिप्टोक्यूरेंसी के निर्माण के पीछे एक मज़ेदार कहानी भी है जो एक कुत्ते के मेम से संबंधित है और इस सिक्के को बनाने की प्रेरणा से प्रेरित है। जब इसे बनाया गया तो लंबे समय बाद भी इसका खास फायदा नहीं हुआ, लेकिन फिलहाल यह मुद्रा चर्चाओं में आसमान छू रही है |

यह भी पढ़े – 2022 में भारत में बिटकॉइन कैसे खरीदें? | Bitcoin Kaise Kharide in 2022

Dogecoin क्यों बनाया गया?

लोगों ने बिटकॉइन में कई कमियां देखी, जिनमें से बिटकॉइन का ट्रांजैक्शन टाइम ज्यादा होता है, यानी इस प्रक्रिया को पूरा करने में काफी समय लगता है। और यह बहुत सारी ऊर्जा खींचता है। जो हमारे पर्यावरण के लिए ठीक नहीं है। इन सब को देखते हुए कुछ लोगों ने अपने खुद के सिक्के बनाने की सोची, ऐसे सिक्कों को Altcoin कहा जाता है।

यह बिटकॉइन के समान है, जो बिटकॉइन की कमियों को दूर करने की कोशिश करता रहता है। जो बिटकॉइन की तरह काम करते हैं लेकिन बिटकॉइन नहीं हैं और ऐसे सिक्कों को लाने का मतलब बिटकॉइन की कमियों को दूर करना और जो भी ट्रांजैक्शन टाइम या प्रोसेसिंग टाइम आदि है, उसे ठीक करना है।

Altcoins के आने के बाद लोग यह सोचने लगे कि कोई भी व्यक्ति खुद एक सिक्का बना सकता है। इतने सारे लोग बेवजह सिक्के बनाने लगे। कुछ स्कैमर्स ने भी इसका फायदा उठाया और कुछ सिक्के बनाकर बाजार में उतार दिए।

अब स्कैमर्स लोगों से अपील करेंगे कि अगर आप इस सिक्के में निवेश करते हैं तो आपको बड़ी रकम का रिटर्न मिलेगा, ऐसे में लोग उन पर पैसा लगाएंगे और बड़ी रकम लेकर स्कैमर्स फरार हो जाएंगे. इसमें कोई कुछ नहीं कर सकता क्योंकि इस डिजिटल करेंसी पर सरकार की कोई भूमिका नहीं है।

यह भी पढ़े – Cryptocurrency क्या है – 2022 में क्रिप्टो करेंसी से पैसे कमाने के आसान तरीके

Dogecoin इतना चर्चा में क्यों है?

अगर हम बात करें कि डॉगकॉइन क्यों चर्चा में है तो आपको बता दें कि फिलहाल चर्चाओं का कारण दुनिया के सबसे अमीर आदमी की सूची में शामिल टेस्ला और स्पेस एक्स के सह-संस्थापक का एक ट्वीट है।

इस ट्वीट में टेस्ला के सह-संस्थापक एलोन मस्क ने कहा कि वह स्पेस एक्स की ओर एक रॉकेट लॉन्च करेंगे और उस रॉकेट में वह इस डॉगकोइन की एक कॉपी भेजेंगे। इसके बाद जैसे इसकी कीमत निकली और इसमें 5 से 6 रुपए का उछाल आया। और अब यह 180 प्रतिशत उछल गया है।

हर कोई इस मुद्रा में निवेश करने की सलाह दे रहा है क्योंकि इस डॉगकोइन क्रिप्टोकरेंसी की कीमत बहुत जल्द आसमान छूने वाली है।

एलोन मस्क भी बिटकॉइन को बेहतर क्रिप्टोकरेंसी मानते हैं। उन्होंने इसमें बड़े पैमाने पर निवेश किया है और इस क्रिप्टोकरेंसी में भुगतान को मंजूरी दी है। एलोन मस्क ने पिछले हफ्ते एक ट्वीट में लिखा था- ‘बिटकॉइन अच्छी चीज है।

शुरुआती दौर में, डॉगकोइन को बिटकॉइन और एथेरियम जैसी सफलता नहीं मिली। हालांकि, लॉन्च होने के 72 घंटों के भीतर ही इस क्रिप्टो करेंसी में 300 फीसदी का उछाल आया।

Dogecoin के फायदे क्या हैं?

  1. डॉगकोइन में धोखाधड़ी की संभावना बहुत कम होती है।
  2. यह सामान्य डिजिटल भुगतान की तुलना में अधिक सुरक्षित है।
  3. इसमें ट्रांजैक्शन फीस भी बहुत कम होती है अगर हम दूसरे पेमेंट ऑप्शन की बात करें तो…
  4. इसमें खाते बहुत सुरक्षित होते हैं क्योंकि इसमें विभिन्न प्रकार की क्रिप्टोग्राफ़ी एल्गोरिथम का उपयोग किया जाता है।

Dogecoin के नुकसान क्या हैं?

  1. डॉगकोइन में एक बार लेनदेन पूरा हो जाने के बाद, इसे उलटना असंभव है क्योंकि इसमें ऐसा कोई विकल्प नहीं है।
  2. यदि आपका वॉलेट आईडी खो जाता है तो यह हमेशा के लिए खो जाता है क्योंकि इसे पुनर्प्राप्त करना संभव नहीं है। ऐसे में आपके बटुए में जो भी पैसा है वह हमेशा के लिए खो जाता है।

यह भी पढ़े –  Coin Switch Kuber क्या है? इससे Bicoin कैसे ख़रीदे 2022

Dogecoin का मालिक कौन है?

बात साल 2013 की है जब दोस मीम काफी ट्रेंड में थी। उस समय, ऑस्ट्रेलियाई बाज़ारिया जैक्सन पामर और आईबीएम सॉफ्टवेयर डेवलपर बिली मार्कस ने डॉगकोइन विकसित किया था।

जैक्सन पामर ने कहा कि वह इंटरनेट पर ट्रेंड करने वाले दो सबसे लोकप्रिय विषयों, क्रिप्टोकुरेंसी और डोज़ मेम को मिलाकर मजाक के लिए भुगतान प्रणाली तैयार करेंगे।

Dogecoin का फ्यूचर क्या है?

कुछ विद्वानों के अनुसार भविष्य बहुत अच्छा बताया जा रहा है। अनुमान लगाया जा सकता है कि इसकी मौजूदा दर में 50 से 80 फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है।

अगर आप आज इसमें निवेश करते हैं तो यह आपके लिए एक बेहतरीन मौका हो सकता है और यह क्रिप्टोकरेंसी आपको भविष्य में अच्छी कमाई दे सकती है।

Dogecoin कैसे काम करता है?

डॉगकोइन एक कोडिंग सिस्टम है जो लिटकोइन पर आधारित है और यह लिटकोइन एक ऑल्टकॉइन है जिसके निश्चित रूप से कुछ फायदे हैं जैसे कि बिटकॉइन की तुलना में कम प्रोसेसिंग समय और कम लेनदेन शुल्क।

दिलचस्प बात यह है कि आज डोगे का बाजार मूल्यांकन लिटकोइन से अधिक हो गया है। दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी की रैंकिंग पर नजर डालें तो डॉगकोइन 10वें नंबर पर आता है।

Best Crypto Trading Apps

Dogecoin kya hai इसमें निवेश कैसे करें?

डॉगकोइन में निवेश करने की प्रक्रिया किसी भी अन्य क्रिप्टोकरेंसी को खरीदने के समान ही है। कोई भी क्रिप्टोकरेंसी खरीदने से पहले आपको यह सोचना होगा कि अगर आपका निवेश किया हुआ पैसा गुम हो गया तो इसका आप पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आपको क्रिप्टोकुरेंसी के लिए बैंक से ऋण या किसी मित्र, रिश्तेदार से पैसा नहीं लेना पड़ता है। अब क्रिप्टो करेंसी में निवेश करने के लिए बहुत सारे प्लेटफॉर्म हैं जिनके माध्यम से हम सिक्के खरीद सकते हैं।

Dogecoin की Currency supply कैसे होती है?

डॉगकोइन की शुरुआत 100 बिलियन सिक्कों के साथ हुई, जो उस समय की डिजिटल मुद्राओं की तुलना में बहुत बड़ी राशि थी। 2015 के मध्य तक 100 अरबवें डॉगकोइन का खनन किया गया था और उसके बाद हर साल अतिरिक्त 5 अरब सिक्के प्रचलन में थे। इस सिक्के की कोई सीमा नहीं है |

निष्कर्ष –

ऐसे में अब आपको पता चल ही गया होगा कि Dogecoin क्या है (Dogecoin क्या है) और आपको Dogecoin के बारे में और भी बहुत सी बातें पता चली होंगी. और साथ ही आपको Dogecoin के बारे में बहुत अच्छी जानकारी मिली होगी।

अगर आप डॉगकोइन के बारे में और कुछ जानते हैं और आप हमें कमेंट बॉक्स की मदद से बता सकते हैं। या आप हमसे कुछ पूछ सकते हैं।

अगर आपको यह Article पसंद आया हो, और इससे अच्छी जानकारी मिली हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। और उन्हें डॉगकॉइन के बारे में भी बताएं।

3 thoughts on “Dogecoin क्या है? और Dogecoin में निवेश कैसे करें? 2022”

Leave a Comment